जाटों में टिकैत के बढ़ते असर से टेंशन में BJP, यूपी की 50 सीटों के लिए खाप वाला दांव

जाटों में टिकैत के बढ़ते असर से टेंशन में BJP, यूपी की 50 सीटों के लिए खाप वाला दांव

हाइलाइट्स:

  • किसान आंदोलन जिस तरह से जाट स्वाभिमान की लड़ाई में तब्दील होती दिख रही है, उससे बीजेपी की बढ़ी चिंता
  • राकेश टिकैत के जाटों पर बढ़ते प्रभाव को काउंटर करने के लिए बीजेपी यूपी में उतारने जा रही अपने जाट नेताओं की फौज
  • बुधवार को केंद्रीय मंत्री और जाट नेता संजीव बालियान के घर पर हुई बीजेपी के जाट नेताओं की अहम बैठक
  • जाट नेता अब गांव-गांव में चलाएंगे जनसंपर्क अभियान, कृषि कानूनों को लेकर बन रहे 'भ्रम' को करेंगे दूर

 रामदास अठावले ने 'हम दो, हमारे दो' के बयान का जिक्र करते हुए राहुल गांधी को दे डाली यह सलाह..

नई दिल्ली
किसान आंदोलन के बहाने जिस तरह से विपक्ष ने पश्चिमी यूपी की 50 सीटों पर असर रखने वाले जाटों के बीच पैठ बनाने की कोशिश है, उससे सतर्क हुई भारतीय जनता पार्टी अब काउंटर करने जा रही है। भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत के आंसुओं ने जिस तरह से किसान आंदोलन को जाटों के स्वाभिमान की लड़ाई में बदलने की कोशिश की, उससे अलर्ट हुई बीजेपी ने अपने सभी जाट चेहरों को मैदान में उतारने का फैसला किया है।

टिकैत इफेक्ट को काउंटर करने के लिए बीजेपी ने बालियान को उतारा
पश्चिम यूपी में जाटों के बीच जनसंपर्क अभियान की कमान केंद्रीय राज्य मंत्री संजीव बालियान संभालेंगे। खास बात है कि जाटों की जिस खाप के संजीव बालियान हैं, उसी खाप से भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत भी हैं। बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सौदान सिंह ने बुधवार को केंद्रीय राज्य मंत्री संजीव बालियान के यहां आवास पर पश्चिमी यूपी के सभी जाट नेताओं की बैठक ली। इस बैठक में कहा गया कि किसान आंदोलन के बहाने विपक्ष राजनीतिक हित साधने में जुटा है।

India vs England Test Series: मोईन अली के घर लौटने पर ऐसा क्या बोल गए रूट कि मांगनी पड़ गई माफी

गांव-गांव जाकर जाटों को समझाने की रणनीति
पिछले कुछ चुनावों से पश्चिमी उत्तर प्रदेश में जाट बीजेपी को वोट देते आए हैं और अब किसान आंदोलन के बहाने विपक्ष जाटों को पार्टी के खिलाफ भड़काने में जुटा है। ऐसे में जाटों के बीच जाकर यह बताना होगा कि न नए कानून किसानों के खिलाफ हैं और न ही पार्टी किसान हितों के खिलाफ है। पश्चिम यूपी की सभी खापों में बीजेपी पंचायतों के जरिए जनसंपर्क अभियान चलाएगी।

टिकैत ने बढ़ाई टेंशन, बालियान के घर हुई बड़ी बैठक
बालियान के घर हुई बैठक में बीजेपी के उत्तर प्रदेश सह-प्रभारी और राष्ट्रीय सचिव सत्या कुमार, उत्तर प्रदेश के सह-संगठन मंत्री कर्मवीर सहित सभी पश्चिमी यूपी के सभी प्रमुख विधायक शामिल हुए। सूत्रों के मुताबिक, बैठक में यह भी कहा गया कि जगह-जगह पंचायतों के जरिए राकेश टिकैत जाटों का चेहरा बनने की कोशिश कर रहे हैं, ऐसे में बीजेपी नेताओं को इस बारे में सोचना होगा।

ICC Test Ranking: रोहित शर्मा और ऋषभ पंत ने लगाई लंबी छलांग, विराट कोहली टॉप-5 में बरकरार


जाटों और किसानों को कृषि कानूनों का फायदा गिनाएंगे बीजेपी नेता
बैठक में शामिल एक बीजेपी नेता ने आईएएनएस को बताया, 'गृहमंत्री अमित शाह और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने मंगलवार की रात बैठक लेकर किसान आंदोलन के बहाने विपक्ष की साजिशों से पार्टी नेताओं को सावधान किया था। इसी कड़ी में आज की बैठक में पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जाटों के बीच व्यापक जनसंपर्क की रणनीति बनाई गई है। बीजेपी के सभी सांसद, विधायक और मंत्री जनसंपर्क अभियान तेज करेंगे। जाटों और किसानों को नए कृषि कानूनों के फायदे गिनाए जाएंगे।'

2 thoughts on “जाटों में टिकैत के बढ़ते असर से टेंशन में BJP, यूपी की 50 सीटों के लिए खाप वाला दांव

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *