IND vs ENG : अश्विन ने रचा इतिहास, यह उपलब्धि हासिल करने वाले बने पहले भारतीय

IND vs ENG : अश्विन ने रचा इतिहास, यह उपलब्धि हासिल करने वाले बने पहले भारतीय

अहमदाबाद
इंग्लैंड के खिलाफ भारत (India vs England) को 4 मैचों की टेस्ट सीरीज में 3-1 से जीत दिलाने में अनुभवी ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) की अहम भूमिका रही। अश्विन ने इस सीरीज में एक शतक के साथ 189 रन बनाने के अलावा कुल 32 विकेट चटकाए।

34 वर्षीय अश्विन को उनके ऑलराउंड प्रदर्शन के लिए मैन ऑप द सीरीज चुना गया। अश्विन 4 मैचों की टेस्ट सीरीज में दो बार 30 से अधिक विकेट लेने वाले पहले भारतीय बन गए हैं। इससे पहले उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ साल 2015 में चार मैचों की सीरीज में 31 विकेट चटकाए थे।
अश्विन ने तीसरे टेस्ट में 400 विकेट पूरे किए थे
भारत की ओर से दिग्गज बिशन सिंह बेदी, हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) , बीएस चंद्रशेखर और कपिल देव (Kapil Dev) किसी एक टेस्ट सीरीज में यह उपलब्धि हासिल कर चुके हैं। इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच की दूसरी पारी में जोफ्रा आर्चर के रूप में अश्विन ने अपना 400वां टेस्ट शिकार पूरा किया था। अश्विन टेस्ट में 400 या इससे अधिक विकेट लेने वाले चौथे भारतीय हैं।
इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में शानदार प्रदर्शन का इनाम अश्विन को आईसीसी रैंकिंग (ICC Rankings) में भी मिला है। वह गेंदबाजों की रैंकिंग में तीसरे नंबर पर पहुंच गए हैं।
विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल में पहुंचा भारत
अश्विन और अक्षर पटेल (Axar Patel) के बुने फिरकी के जाल में एक बार फिर इंग्लैंड के बल्लेबाजों को फांसकर भारत ने चौथा और आखिरी टेस्ट तीसरे ही दिन एक पारी और 25 रन से अपने नाम करके श्रृंखला 3 -1 से जीत ली। इस जीत से भारतीय टीम ने विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल में जगह बना ली है। जून में लॉडर्स पर होने वाले विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में भारत का सामना न्यूजीलैंड से होगा। भारत को फाइनल में पहुंचने के लिये इस मैच में ड्रॉ की जरूरत थी लेकिन अक्षर और अश्विन ने दूसरी पारी में पांच पांच विकेट लेकर तीसरे ही दिन भारत को धमाकेदार जीत दिलाई।

ऑस्ट्रेलिया का फाइनल में पहुंचने का सपना टूटा
भारत की जीत के साथ ऑस्ट्रेलिया का विश्व चैम्पियनशिप फाइनल में पहुंचने का सपना टूट गया। भारत ने पहली पारी में ऋषभ पंत के शतक और वॉशिंगटन सुंदर के नाबाद 96 रन की मदद से 365 रन बनाकर 160 रन की बढ़त ली थी। दूसरी पारी में इंग्लैंड की टीम 135 रन पर आउट हो गई। नरेंद्र मोदी स्टेडियम की अनुकूल पिच पर अक्षर ने 24 ओवर में 48 रन देकर पांच और मैच में नौ विकेट लिए जबकि अश्विन ने 22.5 ओवर में 47 रन देकर पांच और मैच में कुल आठ विकेट लिए।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *