क्या श्रीलंकाई बल्लेबाज के साथ हुई नाइंसाफी?

वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम ने श्रीलंका को एंटिगुआ में खेले गए वनडे सीरीज के पहले मैच में आठ विकेट से एकतरफा अंदाज में मात दी। इस मैच में श्रीलंकाई पारी के दौरान सलामी बल्लेबाज दनुष्का गुनाथिलका को ऑब्स्ट्रक्टिंग द फील्ड(फील्डिंग में बाधा पहुंचाना) के लिए आउट दिया गया। अंपायर के इस फैसले के बाद वेस्टइंडीज टीम और दिग्गज खिलाड़ी कीरोन पोलार्ड पर लगातार सवाल उठाए जा रहे हैं कि उन्होंने बल्लेबाज के खिलाफ अपील करके सही फैसला नहीं लिया, क्योंकि रिप्ले में देखने के बाद यह साफ था कि गुनाथिलका ने जानबूझकर गेंद को पकड़ने से नहीं रोका था।

Video में देखें कैसे कीरोन पोलार्ड ने जड़े एक ओवर में छह छक्के

सोशल मीडिया पर इस पूरे वाकये का वीडियो जमकर वायरल हो रहा है। बता दें कि यह घटना श्रीलंकाई पारी के 22वें ओवर के दौरान हुई। इस ओवर में गेंदबाजी वेस्टइंडीज के कप्तान कीरोन पोलार्ड कर रहे थे और बल्लेबाजी गुनाथिलका कर रहे थे। पोलार्ड की गेंद पर शॉट खेलने के बाद गुनाथिलका ने रन लेना चाहा, लेकिन जब उन्हें लगा कि रन नहीं होगा तो वे वापस क्रीज पर जाने लगे। यहां वापस क्रीज पर आते वक्त उनका पैर बॉल से लग गया। इसके बाद पोलार्ड ने गुस्से में गुनाथिलका की तरफ देखा और अंपायर से उनकी शिकायत कर दी। बाद में अंपायर ने उन्हें आउट दे दिया।

 श्रीलंका टीम को बेशक इस मैच में हार मिली हो, लेकिन गुनाथिलका ने मैच में शानदार पारी खेलते हुए 61 गेंद में सात चौकों की मदद से 55 रन बनाए। उन्होंने टीम को मजबूत शुरुआत देते हुए दिमुथ करुणारत्ने के संग मिलकर पहले विकेट के शतकीय साझेदारी निभाई। टीम ने निर्धारित ओवरों में 232 रन बनाए और वेस्टइंडीज टीम को 233 रनों का लक्ष्य दिया। घरेलू मैदान पर विंडीज टीम को इस लक्ष्य को हासिल करने में कोई भी परेशानी नहीं हुई और उसने यह लक्ष्य दो विकेट खोकर ही हासिल कर लिया। सलामी बल्लेबाज शाई होप ने शानदार शतक जड़ा। उन्हें मैन ऑफ द मैच भी चुना गया।

One thought on “क्या श्रीलंकाई बल्लेबाज के साथ हुई नाइंसाफी?

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: