फटी जींस...मोदी की पूजा... हफ्ते भर में ही तीरथ सिंह रावत के इतने विवादित बयान, बचाव में उतरीं पत्नी

फटी जींस...मोदी की पूजा... हफ्ते भर में ही तीरथ सिंह रावत के इतने विवादित बयान, बचाव में उतरीं पत्नी

हाइलाइट्स:

  • उत्तराखंड का मुख्यमंत्री नियुक्त होने के बाद शुक्रवार को तीरथ सिंह रावत पहली बार दिल्ली जाएंगे
  • तीरथ सिंह रावत सुबह साढ़े 11 बजे उत्तराखंड सदन पहुंचेंगे, बीजेपी चीफ जेपी नड्डा से करेंगे मुलाकात
  • उत्तराखंड सीएम तीरथ सिंह रावत के विवादित बयानों के बीच उनकी पत्नी रश्मि समर्थन में उतर आई हैं

देहरादून
उत्तराखंड के नवनियुक्त मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत इन दिनों चर्चा में हैं। मुख्यमंत्री का कार्यभार संभालते उन्हें हफ्ता भर ही हुआ है लेकिन एक के बाद विवादित बयानों को लेकर आलोचना से घिरे हुए हैं। उत्तराखंड का मुख्यमंत्री नियुक्त होने के बाद शुक्रवार को तीरथ सिंह रावत पहली बार दिल्ली जाएंगे। तीरथ सिंह रावत सुबह साढ़े 11 बजे उत्तराखंड सदन पहुंचेंगे। यहां वह बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात करेंगे। इस बीच तीरथ सिंह रावत की पत्नी भी उनके बचाव में उतर आई हैं।

तीरथ सिंह रावत की पत्नी रश्मि रावत एक वीडियो के जरिए बयान जारी कर कहा कि मुख्यमंत्री रावत ने जिस संदर्भ में यह बात कही है उसके बारे में नहीं किया जा रहा है। सिर्फ एक शब्द को पकड़ लिया गया। रश्मि ने बताया, ‘तीरथ सिंह ने का कहना था कि महिलाओं की भागीदारी समाज और देश के निर्माण में अभूतपूर्व है। महिलाओं के कंधों पर ही यह जिम्मेदारी है कि वह हमारी सांस्कृतिक धरोहर को बचाएं, हमारी पहचान को बचाएं, हमारी वेशभूषा को बचाएं।’ बता दें कि रश्मि मिस मेरठ रह चुकी हैं।

'पेट्रोल डीजल का गरीबों पर असर नहीं'
तीरथ सिंह के लिए गए फैसलों से ज्यादा उनके विवादित बयान सुर्खियों में हैं। एक ही हफ्ते के अंदर उनके कई बयान नैशनल मीडिया पर छाये रहे। 10 मार्च को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर तीरथ सिंह रावत ने बयान दिया था कि इससे गरीब जनता पर कोई असर नहीं पड़ता है। उन्होंने कहा कि पैसों वालों के पास वाहन हैं, इसलिए इसका असर उन्हीं पर होता है।

'राम और कृष्ण की तरह पूजे जाएंगे पीएम मोदी'
इसके बाद हरिद्वार में एक कार्यक्रम के दौरान तीरथ सिंह रावत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना भगवान कृष्ण और राम से कर दी। तीरथ सिंह रावत ने यह भी कहा कि एक दिन लोग पीएम मोदी की पूजा करेंगे। उनके इस बयान की काफी आलोचना हुई।

'फटी जींस' पर बयान से मचा बवाल
लेकिन सबसे ज्यादा विवाद तीरथ सिंह रावत के महिलाओं के पहनावे वाले बयान पर हुआ। उन्होंने महिलाओं के ‘फटी जींस’ पहनने को लेकर टिप्पणी की थी। इस दौरान अपना एक अनुभव साझा करते हुए उन्होंने कहा कि एक बार वो प्लेन से कहीं जा रहे थे, तो उन्होंने एक महिला को फटी हुई जींस पहने देखा, उसके साथ दो बच्चे भी थे। महिला एनजीओ चलाती थी, जबकि उनके पति जेएनयू में प्रफेसर थे। रावत ने कहा कि ऐसी महिलाओं अपने बच्चों को क्या संस्कार देंगी। 

नहीं माने तीरथ, हाफ पैंट पर दे दिया बयान
इसके बाद मुख्यमंत्री रावत ने गुरुवार को भी लड़कियों के कपड़ों को लेकर एक विवादित बयान दे डाला। एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने अपने कॉलेज के वक्त का एक किस्सा साझा किया। उन्होंने कहा कि उस वक्त एक लड़की चंडीगढ़ से कॉलेज में पढ़ने आई थी जो हाफ कट ड्रेस पहनती थी और लड़के उसके पीछे पड़ गए थे। रावत ने कहा कि, 'यूनिवर्सिटी में पढ़ने आई हो और अपना बदन दिखा रही हो, क्या होगा इस देश का।'

ट्विटर पर ट्रेंड होने लगा #RippedJeans
रावत के इन बयानों की काफी आलोचना हुई। सोशल मीडिया पर #RippedJeans ट्रेंड होने लगा था। कई महिलाओं ने रिप्ड जींस की तस्वीर पोस्ट की। प्रियंका चतुर्वेदी, महुआ मोइत्रा और प्रियंका गांधी ने तीरथ सिंह रावत को उनके बयानों के लिए आड़े हाथों लिया। समाजवादी पार्टी सांसद जया बच्चन ने भी अपने एक बयान में कहा था कि एक मुख्यमंत्री को ऐसे बयान शोभा नहीं देते हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *