आंकड़े छिपाकर कोरोना के सच को भी मोदी सरकार ने नियंत्रित कर लियाः राहुल

देश में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. लोग संक्रमण के चलते बेहाल और लाचार नजर आ रहे हैं. संकट की इस घड़ी में जहां एक तरफ बेड्स और ऑक्सीजन की किल्लत है वहीं कोरोना के दौरान होने वाली मौतों के आंकड़ों पर भी सवाल उठ रहे हैं. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को अपने ट्विटर अकाउंट पर एक ट्वीट करते हुए केंद्र सरकार पर निशाना साधा है.

राहुल ने अपने ट्वीट में लिखा, 'रोज़गार और विकास की तरह केंद्र सरकार कोरोना का असली डेटा भी जनता तक नहीं पहुंचने दे रही. महामारी ना सही, महामारी का सच तो नियंत्रण में कर ही लिया.' इससे पहले राहुल गांधी ने वैक्सीन को लेकर एक ट्वीट करते हुए कहा कि चर्चा बहुत हो चुकी. देशवासियों को वैक्सीन मुफ़्त मिलनी चाहिए- बात ख़त्म. राहुल ने अपने ट्वीट में कहा कि मत बनाओ भारत को भाजपा सिस्टम का विक्टिम.

राहुल गांधी  अक्सर ट्विटर के जरिए केंद्र सरकार पर निशाना भी साधते रहते हैं. हाल ही में राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा था, ''सद्भाव से केंद्र सरकार से अपील है कि PR व अनावश्यक प्रॉजेक्ट पर खर्च करने की बजाए वैक्सीन, ऑक्सीजन व अन्य स्वास्थ्य सेवाओं पर ध्यान दें. आने वाले दिनों में ये संकट और भी गहरायेगा. इससे निपटने के लिए देश को तैयार करना होगा. वर्तमान दुर्दशा असहनीय है!''

24 घंटे में कोरोना के साढ़े तीन लाख से ज्यादा केस

बता दें कि 24 घंटे में देश में कोरोना के साढ़े तीन लाख से ज्यादा केस सामने आए हैं. जबकि 2812 मरीजों ने दम तोड़ दिया. इन सबके बीच 24 घंटे में 2 लाख 19 हजार से ज्यादा मरीज अस्पताल से डिस्चार्ज किए गए. देश में फिलहाल 28 लाख 13 हजार से ज्यादा एक्टिव केस हैं.

उधर हालात पर काबू करने के लिए टीकाकरण अभियान जोरों पर है. अब तक 14 करोड़ 19 लाख से ज्यादा लोग टीका लगा चुके हैं. इन सबके बीच हालात सुधरने का नाम नहीं ले रहे. बीते रोज महाराष्ट्र में 24 घंटे में 66 हजार से ज्यादा नए केस सामने आए थे.  जबकि एक दिन में 832 लोगों की जान चली गई.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: