IPL: ऑस्ट्रेलियाई पीएम की 'धमकी' के बाद BCCI का बड़ा बयान

IPL: ऑस्ट्रेलियाई पीएम की 'धमकी' के बाद BCCI का बड़ा बयान

हाइलाइट्स:

  • ऑस्ट्रेलियाई पीएम ने IPL खेल रहे अपने प्लेयर्स को अपने दम पर वापस आने को कहा है
  • इस पर बीसीसीआई ने प्लेयर्स को आश्वस्त किया है कि सभी की घर वापसी बोर्ड की जिम्मेदारी है
  • टूर्नामेंट खत्म होने के बाद प्लेयर्स की सुरक्षित वापसी की पूरी जिम्मेदारी बीसीसीआई की होगी
  • दूसरी ओर, अपने पीएम को मुंबई इंडियंस के खिलाड़ी क्रिस लिन ने भी जवाब दिया है

नई दिल्ली
भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने मंगलवार को कहा वह इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में भाग ले रहे खिलाड़ियों की टूर्नामेंट समाप्त होने के बाद बिना किसी रुकावट के स्वदेश वापसी सुनिश्चित करने के लिए अपनी तरफ से हर संभव प्रयास करेगा। उसका बयान ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन (Australia PM Scott Morrison On IPL Players) के उस ऐलान के बाद आया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि प्लेयर्स ने निजी तौर पर भारत की यात्रा की है। उन्हें अपनी व्यवस्था से ही लौटना होगा।

3 ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी लौटे स्वदेश
भारत में कोविड-19 के मामले बढ़ने के कारण तीन ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी स्वदेश लौट गए हैं। राजस्थान रॉयल्स के एंड्रयू टाइ तथा रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के केन रिचर्डसन और एडम जंपा ने आईपीएल से हटने का फैसला किया। बीसीसीआई सीओओ हेमांग अमीन ने खिलाड़ियों को संबोधित पत्र में कहा, ‘हम जानते हैं कि आप में से कई इस बात को लेकर आशंकित हैं कि टूर्नामेंट समाप्त होने के बाद स्वदेश कैसे लौटेंगे। हम आपको विश्वास दिलाते हैं कि आपको चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है।’


आपको सकुशल पहुंचाने तक चलेगा हमारा आईपीएल
उन्होंने कहा, ‘बीसीसीआई यह सुनिश्चित करने के लिए अपनी तरफ से सब कुछ करेगा कि आप अपने गंतव्य तक बिना किसी रुकावट के पहुंचे। बीसीसीआई स्थिति पर करीबी निगरानी रख रहा है तथा टूर्नामेंट समाप्त होने के बाद आपको स्वदेश पहुंचाने के लिए सरकारी अधिकारियों के साथ मिलकर काम कर रहा है।’ पत्र में आगे कहा गया है, ‘हम आपको आश्वस्त करते हैं कि बीसीसीआई के लिए तब तक टूर्नामेंट समाप्त नहीं होगा जब तक आप सकुशल अपने घर नहीं पहुंच जाते।’

विदेशी प्लेयर्स के हौसले की बीसीसीआई ने की तारीफ
भारत में पिछले कुछ दिनों से तीन लाख से अधिक मामले आ रहे हैं तथा आक्सीजन और अन्य महत्वपूर्ण दवाईयों की कमी के कारण स्वास्थ्य ढांचा चरमरा रहा है। कोलकाता नाइटराइडर्स (केकेआर) के मेंटोर डेविड हसी ने स्वीकार किया कि आईपीएल से जुड़े ऑस्ट्रेलियाई यहां की स्थिति को देखकर स्वदेश वापसी को लेकर थोड़ा नर्वस हैं।


अमीन ने खिलाड़ियों के टूर्नामेंट में बने रहने के लिए सराहना की। उन्होंने कहा, ‘जैसा कि आपमें से कुछ खिलाड़ियों ने कहा कि यदि हम थोड़े समय के लिए भी लोगों का ध्यान तमाम परेशानियों से हटाने में सफल रहते हैं तो हम अहम भूमिका निभाते हैं। जब आप मैदान पर उतरते हो तो उन लाखों लोगों में उम्मीद जगाते हो जो उसे देख रहे हैं।’ इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के भी कई खिलाड़ी आईपीएल में खेल रहे हैं, लेकिन अभी तक उन्होंने कोई चिंता नहीं जतायी है। आईपीएल फाइनल 30 मई को अहमदाबाद में खेला जाएगा।


पीएम पर खिलाड़ी का जवाब- क्यों न पैसे सरकार की जगह चार्टर्ड फ्लाइट पर खर्च किया जाए
इससे पहले, मॉरिसन ने भारत से प्रत्यक्ष उड़ानों पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की । इस घोषणा के तहत वाणिज्यिक और सरकार की प्रत्यावर्तन सेवाएं और देश से कनेक्टिंग उड़ानों का उपयोग 15 मई तक नहीं किया जा सकेगा। आईपीएल में मुंबई इंडियंस की तरफ से खेलने वाले बल्लेबाज क्रिस लिन ने कहा था कि उन्होंने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से टूर्नामेंट के समापन पर ऑस्ट्रेलियाई टीम को घर लाने के लिए चार्टर्ड फ्लाइट की व्यवस्था करने को कहा था। लिन ने न्यूज कॉर्प मीडिया को बताया, 'मैंने यह संदेश भेजा किया कि जैसा कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया हर आईपीएल अनुबंध का 10 प्रतिशत लेता है, क्या ऐसा हो सकता है कि आईपीएल खत्म होने के बाद हम इस पैसे को चार्टर्ड फ्लाइट पर खर्च कर सकें।'

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *