पुलिस क्‍वारंटीन सेंटर में एक साथ दो सपने पूरा कर रहा यह वर्दी वाला डॉक्‍टर

पुलिस क्‍वारंटीन सेंटर में एक साथ दो सपने पूरा कर रहा यह वर्दी वाला डॉक्‍टर

हाइलाइट्स:

  • बिजनौर के पुलिस लाइंस में बने क्‍वारंटीन सेंटर में सीओ गणेश कुमार गुप्‍ता को देखकर लोग अकसर हैरान रह जाते हैं
  • कभी वह वर्दी पहने कानून व्‍यवस्‍था की समस्‍याओं से जूझ रहे होते हैं और कभी कोरोना ग्रस्‍त पुलिसकर्मियों का इलाज कर रहे होते हैं
  • गणेश एक साथ दो सपनों को पूरा कर रहे हैं, उनके पिता चाहते थे कि वह डॉक्‍टर बनें जबकि वह प्रशासनिक अफसर बनना चाहते थे

 बिजनौर
बिजनौर के पुलिस लाइंस में बने क्‍वारंटीन सेंटर में सीओ गणेश कुमार गुप्‍ता को देखकर लोग अकसर हैरान रह जाते हैं। कभी वह वर्दी पहने कानून व्‍यवस्‍था की समस्‍याओं से जूझ रहे होते हैं और कभी पीपीई किट पहनकर कोरोना ग्रस्‍त पुलिसकर्मियों का इलाज कर रहे होते हैं। असल में, गणेश एक साथ दो सपनों को पूरा कर रहे हैं।

2016 बैच के पीपीएस गणेश कुमार गुप्‍ता गोरखपुर के रहने वाले हैं। इनके पिता ओमप्रकाश गुप्‍ता साधारण दुकानदार हैं, लेकिन उनकी शुरू से इच्‍छा थी कि गणेश पढ़ लिखकर डॉक्‍टर बनें। गणेश ने ऐसा किया भी, उन्‍होंने साल 2005 में मेडिकल एंट्रेंस पास किया और लखनऊ की किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी में एमबीबीएस से पढ़ाई की।

दिल्‍ली, यूपी के अस्‍पतालों में किया काम
इसके बाद उन्‍हें दिल्‍ली सरकार के अस्‍पतालों में काम करने का मौका मिला। बाद में वह यूपी स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं में भी चुने गए। लेकिन गणेश का भी एक सपना था, यह सपना था प्रशासनिक अधिकारी के तौर पर काम करने का। उन्‍होंने इस दौरान प्रशासनिक सेवाओं की तैयारी जारी रखी। उनकी मेहनत रंग लाई और 2016 में यूपी पुलिस सेवाओं में उनका चयन हो गया।

एसपी ने सौंपा नया जिम्‍मा
फिलहाल, चार महीनों से वह ब‍िजनौर में ट्रेनी सीओ के पद पर तैनात हैं। यहां उनकी मेडिकल काबिलियत को देखते हुए एसपी धरमवीर सिंह ने उन्‍हें कोरोना से जूझ रहे पुलिसकर्मियों की देखभाल का जिम्‍मा सौंपा। गणेश के लिए यह दोनों हाथों में लड्डू जैसी बात हुई।

इलाज भी करते हैं, हौसला भी बढ़ाते हैं
अब वह पुलिस अधिकारी तो हैं ही लोगों की जान भी बचा रहे हैं। पंचायत चुनाव तैयारियों और दूसरी ड्यूटी में तैनात लगभग 162 पुलिसवाले कोविड पॉजिटिव पाए गए। उन्‍हें इलाज के लिए यहीं क्‍वारंटीन सेंटर में लाया गया। गणेश ने उनका इलाज किया और लगभग सभी स्‍वस्‍थ हो गए। गणेश दिन में दो बार क्वारन्टीन सेंटर में जाकर वहां भर्ती पुलिस कर्मियों का उपचार करते हैं और उनका हौसला भी बढ़ाते हैं।


bijnor coपुलिसवालों का इलाज भी करते हैं सीओ गणेश कुमार

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *