कोविड पॉजिटिव राम रहीम से तुरंत मिलने पहुंचीं हनीप्रीत, अस्पताल में खास जिम्मेदारी

कोविड पॉजिटिव राम रहीम से तुरंत मिलने पहुंचीं हनीप्रीत, अस्पताल में खास जिम्मेदारी

हाइलाइट्स:

  • गुरुग्राम के मेदांता में भर्ती हैं गुरमीत राम रहीम
  • गुरमीत से मिलने उनकी मुंहबोली बेटी हनीप्रीत मिलने पहुंची
  • हॉस्पिटल प्रशासन ने हनीप्रीत को दिया है अटेंडेंट का कार्ड

गुरुग्राम
रेप और मर्डर के मामलों में रोहतक की सुनारिया जेल में बंद डेरा प्रमुख राम रहीम के कोरोना वायरस संक्रमित होने की बात सामने आई। उन्हें गुरुग्राम के के मेदांता अस्पताल में भर्ती किया गया है। यहां उनकी देखभाल करने के लिए उनकी मुंहबोली बेटी हनीप्रीत भी पहुंच गई है। हनीप्रीत का अस्पताल प्रशासन ने अटेंडेंट का कार्ड बनाया है।

गुरमीत राम रहीम को मेदांता हॉस्पिटल की 9वीं मंजिल पर 4643 रूम में रखा गया है। सोमवार सुबह उनसे मिलने के लिए हनीप्रीत पहुंचीं। उनका अटेंडेंट का कार्ड बनाया गया है जो 15 जून तक के लिए वैध है। इस कार्ड से वह राम रहीम से मिलने उनके रूम में जा सकती हैं।

अस्पताल में कड़ी सुरक्षा के प्रबंध
राम रहीम की अस्पताल में जांच किए जाने पर कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने की बात सामने आई थी। हालांकि स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि राम रहीम की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव है। उन्हें फिलहाल मेदांता के कोरोना वॉर्ड में रखा गया है। रविवार दोपहर में उन्हें मेदांता लाया गया था। यहां पहुंचने से पूर्व सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए थे। सूत्रों की मानें तो हालत में सुधार होना बताया जा रहा है।

3 जून को हुई जांच
स्वास्थ्य खराब होने संबंधी शिकायत मिलने के बाद 3 जून को राम रहीम की पीजीआईएमएस रोहतक की न्यू ओपीडी व लाला श्यामलाल सुपरस्पेशलिटी सेंटर में जांच हुई। फिर वापस उन्हें सुनारिया जेल भेज दिया गया था।

रोहतक के बाद मेदांता लाए गए

सूत्रों के मुताबिक पीजीआईएमएस रोहतक के डॉक्टरों के परामर्श के बाद ही राम रहीम को गुरुग्राम के मेदांता मेडिसिटी में जांच के लिए ले जाया गया। यहां लाए जाने के बाद डॉक्टर्स ने उनका इलाज शुरू करने के साथ कई जांच कीं। जांच में कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव होना पाया गया।

हर आने-जाने वालों पर रखी जा रही निगाह
सुरक्षा के लिहाज से अस्पताल व आसपास के एरिया में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है। आने-जाने वाले लोगों पर निगाह रखी जा रही है। मेदांता में भर्ती होने से पूर्व 12 मई को भी डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को पीजीआईएमएस में स्वास्थ्य संबंधी जांच के लिए 21 घंटे तक रखा गया था।

सीटी स्कैन के बाद पता चली बीमारी
यहां राम रहीम का सीटी स्कैन किया गया था और पेट व दिल की जांच की गई थी, जबकि 21 अप्रैल को एक दिन के लिए सुबह से लेकर शाम तक इमरजेंसी परोल मिली थी। इस दौरान राम रहीम ने अपनी बीमार मां से मुलाकात की थी।

राम रहीम और हनीप्रीतराम रहीम और हनीप्रीत (फाइल फोटो)

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *