पैसों का लालच देकर बुलाया दुबई, वेश्यावृत्ति के दलदल में फंसी किशोरी

दुबई
एक 17 साल की नाबालिग लड़की को तीन लोगों ने वेश्यावृत्ति में जबरन घसीटा और बदले में मोटी रकम देने का वादा किया। दुबई कोर्ट ऑफ फर्स्ट इंस्टेंस में सुनवाई के दौरान पूरा मामला उजागर हुआ। प्रवासी दो पुरुषों और एक महिला को कोर्ट ने प्रवासी किशोरी को वेश्यावृत्ति के लिए मजबूर करने के लिए तीन साल जेल की सजा सुनाई है। रिकॉर्ड से पता चलता है कि आरोपी महिला दो साल पहले अपने गृह देश की यात्रा पर थी जहां वह पीड़िता से मिली और उसे दुबई में नौकरी देने का वादा किया।

वेश्यावृत्ति के लिए किया गया मजबूर
पीड़िता ने कहा, 'महिला ने मुझसे कहा कि उसका ब्वॉयफ्रेंड मुझे नौकरी दिलाने और मेरी आय बढ़ाने में मदद करेगा।' साल 2019 में लड़की दुबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट पहुंची और उसे दुबई के अल बरहा इलाके के एक अपार्टमेंट में ले जाया गया। यहां उसे वेश्या के रूप में काम करने के लिए मजबूर किया गया था। अपार्टमेंट में एक दूसरी औरत भी मौजूद थी जो वेश्यावृत्ति में शामिल थी।

ग्राहक बनकर पहुंचा पुलिस अधिकारी
बाद में लड़की को एक होटल में ले जाया गया, जहां गिरोह के लोग उसके लिए ग्राहकों को लेकर आए। रिकॉर्ड के मुताबिक पीड़िता ने जांचकर्ताओं को बताया कि दो लोग, जो वेश्यालय का संचालन करते थे, उसे एक रात के लिए Dh1,000 का भुगतान करते थे। दुबई पुलिस को एक होटल के कमरे में किशोरी को जबरन देह व्यापार में धकेले जाने की सूचना मिली थी। ग्राहक बनकर पहुंचे एक पुलिस अधिकारी ने सूचना की पुष्टि की।

कोर्ट ने सुनाई तीन साल जेल की सजा
अंडरकवर ऑफिसर ने इशारा किया और अन्य पुलिसकर्मी ने कमरे में छापा मारा और दो पुरुषों को गिरफ्तार किया। अन्य महिला को दूसरे कमरे में पकड़ा गया। तीनों पर मानव तस्करी और वेश्यालय चलाने का आरोप लगाया गया, जिसे उन्होंने खारिज कर दिया। अदालत ने उन्हें निर्वासन के बाद तीन साल जेल की सजा सुनाई। अन्य एक महिला को वेश्या के रूप में काम करने के लिए छह महीनों के लिए जेल की सजा सुनाई गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: