इतने कैमरे थे मेरा वीडियो कहां है? आशीष मिश्र ने कहा- मैं वहां था ही नहीं

इतने कैमरे थे मेरा वीडियो कहां है? आशीष मिश्र ने कहा- मैं वहां था ही नहीं

हाइलाइट्स

  • डेप्युटी सीएम को रिसीव करने जा रहे काफिले पर हुआ हमला-आशीष मिश्रा
  • मैं घटनास्थल से 4 किलोमीटर दूर कार्यक्रम स्थल पर मौजूद था-आशीष मिश्रा
  • आशीष मिश्रा का कहना है कि वो घटनास्थल पर मौजूद ही नहीं थे

लखीमपुर खीरी
लखीमपुर की घटना को लेकर पूरे प्रदेश में अलर्ट जारी किया गया है। लखीमपुर खीरी में किसानों की मौत (Lakhimpur Kheri News Today) को लेकर बवाल बढ़ रहा है। इसी बीच केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे अशीष मिश्रा ने निजी न्यूज चैनल से बातचीत में घटनास्थल पर मौजूद होने की बात को ही पूरी तरह नकार दिया है। पूरे बवाल पर उन्होंने दावा किया है कि इतने कैमरे थे वीडियो होती मेरी कोई, फोटो होती। गाड़ी पलटी, आग लगाई गई, मारपीट हुई। उन्होंने कहा जीप में मौजूद मेरे 4 लोगों को मार दिया गया, तो मेरे एक भी खरोंच क्यों नहीं आई। आशीष मिश्रा का कहना है कि वो घटनास्थल पर मौजूद ही नहीं थे।

डेप्युटी सीएम को रिसीव करने जा रहे काफिले पर हुआ हमला-आशीष मिश्रा
निजी न्यूज चैनल से बातचीत में आशीष मिश्रा ने कहा कि डेप्युटी सीएम केशव प्रसाद मौर्य को कार्यक्रम में रिसीव करने के लिए 3 गाड़ियों से कार्यकर्ता गए थे। किसानो ने हमारे काफिल पर हमला किया। सभी लोग रास्ते में तभी प्रदर्शन के बीच में कुछ लोगों ने गाड़ी पर पथराव किया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इसके बाद गाड़ियों में आग लगा दी गई।

'4 भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को पीटकर मार दिया गया'
केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे अशीष मिश्रा ने दावा किया कि चार भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को पीटकर मार दिया गया है। ये लोग अपने आप को किसान बता रहे हैं किसान ऐसा कर ही नहीं सकता है। उन्होने कहा कि उन्हें घटना की सूचना साढ़े तीन बजे के लगभग मिली। उन्होंने जानकारी दी कि ड्राइवर जिसकी मौत हुई है उसका नाम हरिओम है।

मैं घटनास्थल से 4 किलोमीटर दूर कार्यक्रम स्थल पर मौजूद था-आशीष मिश्रा
संयुक्त किसान मोर्चे के फायरिंग और गाड़ी चढ़ाने के आरोपों पर बोलते हुए उन्होंन कहा कि जब मैं वहां था ही नहीं तो ये कैसे संभव है। वे दंगल यानि कार्यक्रम स्थल पर मौजूद थे। उन्होंने कहा कि वे वहां पर मौजूद थे इसका कोई प्रमाण नहीं है। आशीष मिश्रा का कहना है कि वो घटनास्थल से 4 किलोमीटर दूर कार्यक्रम स्थल पर मौजूद थे, गाड़ी उनका ड्राइवर चला जा रहा था। आशीष मिश्रा ने सफाई देते हुए कहा कि पूरे मामले की उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिए।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *