fbpx

खाड़ी देशों से जा रहे भारत तो जान लें ये जरूरी यात्रा नियम, आई नई गाइडलाइन

हाइलाइट्स

  • सऊदी अरब, यूएई, ओमान आदि खाड़ी देशों से भारत जा रहे लोगों के लिए जरूरी खबर है
  • भारत सरकार ने विदेशों से आने वाले यात्रियों के लिए अपने दिशा- निर्देशों को बदल दिया है
  • भारत सरकार ने यह बदलाव ऐसे समय पर किया है, कोरोना महामारी के मामले घट रहे हैं

दुबई
सऊदी अरब, यूएई, ओमान आदि खाड़ी देशों से भारत जा रहे लोगों के लिए जरूरी खबर है। भारत सरकार ने विदेशों से आने वाले यात्रियों के लिए अपने दिशा- निर्देशों को बदल दिया है। भारत सरकार ने यह बदलाव ऐसे समय पर किया है, दुनियाभर में कोरोना महामारी के मामले घट रहे हैं और वैक्‍सीन लगवाने वालों की संख्‍या लगातार बढ़ती जा रही है। सरकार ने यह भी कहा है कि वायरस के बदलते स्‍वरूप पर लगातार फोकस करने की जरूरत है।

भारत सरकार ने इससे पहले 17 फरवरी को वर्तमान गाइडलाइन को जारी किया था। अब सरकार ने कोरोना के मामले कम होने के कारण इसकी समीक्षा की गई है। इस आदेश में कहा गया है कि संशोधित प्रोटोकॉल को यात्रियों और एयरलाइन कंपनियों को देश में प्रवेश के समय मानना ही होगा ताकि रिस्‍क वाले यात्रियों की पहचान की जा सके। आदेश के मुताबिक सभी यात्रियों को एक स्‍वघोषित फार्म को भरकर ऑनलाइन एयर सुविधा पोर्टल पर अपनी यात्रा से ठीक पहले अपलोड करना होगा।

रिपोर्ट में गड़बड़ी की तो आपराधिक कार्रवाई
इसके अलावा कोरोना की निगेटिव आरटी पीसीआर रिपोर्ट (डिपार्चर से 72 घंटे के अंदर) और रिपोर्ट की प्रमाणिकता से संबंधित घोषणा पत्र को भरकर देना होगा। इसमें चेतावनी दी गई है कि अगर यात्रियों ने रिपोर्ट में गड़बड़ी की तो उनके खिलाफ आपराधिक कार्रवाई की जाएगी। इस आदेश में यह भी कहा गया है कि यात्रियों को पोर्टल पर ही अंडरटेकिंग देनी होगी कि अगर जरूरत पड़ेगी तो वे होम क्‍वारंटाइन रहेंगे या खुद से स्‍वास्‍थ्‍य की निगरानी करेंगे।

इस आदेश में कुछ देशों के लिए अतिरिक्‍त कदम भी उठाए गए हैं जहां पर अभी कोरोना का प्रसार तेज है। इन देशों के बारे में जानकारी भारत के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय या विदेश मंत्रालय या एयर सुविधा पोर्टल से हासिल किया जा सकता है। जो देश भारत के नागरिकों को क्‍वारंटाइन मुक्‍त एंट्री देते हैं, वहां से भारत आने वाले यात्रियों को छूट दी जाएगी। इन निर्देशों में कहा गया है कि सभी यात्रियों को सलाह दी जाती है कि वे आरोग्‍य सेतु ऐप को अपने मोबाइल में जरूर डाउनलोड करें।