fbpx

बेलारूस में सोवियत काल का मालवाहक विमान क्रैश, सभी सवारों की मौत

मॉस्को। बेलारूस (Belarus) में विमान दुर्घटना (plane crash) में सात लोगों की मौत (seven dead)हो गई है। मालवाहक विमान (cargo plane) उस समय दुर्घटनाग्रस्त हुआ जब वह रूस (Russia) के पूर्वी हिस्से में उतर रहा था। मालवाहक में सवार लोगों को बचाया नहीं जा सका। यह मालनवाहक विमान सोवियत यूनियन काल (Soviet era) का था। इसका संचालन बेलारूस की एक कंपनी करती थी।

यह है घटना

बेलारूस का मालवाहक विमान बुधवार को रूस के पूर्वी हिस्से में उतर रहा था। पहली बार नहीं उतर सकने के बाद दूसरी बार के प्रयास के दौरान कुछ टेक्निकल गड़बड़ी की वजह से उसमें आग लग गई और वह दुर्घटनाग्रस्त हो गया। विमान में सात लोग सवार थे। हादसे में सभी सात मारे गए। इस विमान ने रूस के उत्तर पूर्वी क्षेत्र चुकोटका के बिलिबिनो से उड़ान भरी थी और इर्कुट्स के लिए रवाना होने से पहले यह याकुट्स पर रुका था।

अधिकारियों ने बताया कि मालवाहक विमान सोवियत काल का था। चार इंजन वाले विमान 'एएन-12' (AN-12) का डिजाइन 1950 में तैयार किया गया था।  विमान 'एएन-12' का संचालन बेलारूस की विमानन कंपनी 'ग्रोडनो' करती थी। 'ग्रोडनो' के अधिकारियों ने बताया कि विमान में सात लोग सवार थे और दुर्घटना में सभी लोगों की मौत हो गयी।

दुबारा उतरने के प्रयास में हुआ हादसा

बेलारूस की शीर्ष जांच एजेंसी 'बेलारूस इंवेस्टिगेटिव कमेटी' (Belarus Investigative Committee) ने दुर्घटना की पुष्टि की है। स्थानीय खबरों के मुताबिक, विमान पहली बार में नहीं उतर पाया था और यह उतरने की दोबारा कोशिश में दुर्घनग्रस्त हो गया। विमान दुर्घटना के कारणों का फिलहाल पता नहीं चल सका है।

समाचार एजेंसी 'इंटरफैक्स न्यूज' के मुताबिक तेज बारिश की वजह से विमान के निचले हिस्से में संभवत: बर्फ जम जाने से यह हादसा हुआ। अधिकारियों ने बताया कि विमान में बेलारूस के तीन, रूस के दो और यूक्रेन के दो नागरिक सवार थे।