fbpx

BJP का पांच विधानसभा चुनावों पर मंथन, राष्ट्रीय कार्यकारिणी की मीटिंग में पहुंचे PM और Shah

नई दिल्ली।

कोरोना काल (Covid era) के बाद भारतीय जनता पार्टी (BJP) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी (National Executive) पहली बार मीटिंग करने जा रही है। पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) के मद्देनजर यह बैठक काफी महत्वपूर्ण है। क्योंकि बीते हफ्ते ही कई राज्यों में हुए उपचुनाव के परिणाम (byelections results) भी आए हैं। यह परिणाम बीजेपी खेमे में कोई खास खुशी देने वाले नहीं रहे। मीटिंग में शिरकत करने के लिए पीएम मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा एनडीएमसी कन्वेंशन सेंटर पहुंच चुके हैं।

सवा सौ की कार्यकारिणी

बीजेपी महासचिव अरुण सिंह (Arun Singh) ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी (PM Modi), पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) और कई केंद्रीय मंत्रियों सहित राष्ट्रीय कार्यकारिणी के 124 सदस्य बैठक में शामिल होंगे। इस मीटिंग में कार्यकारिणी के सदस्य व विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्री वर्चुअली शामिल होंगे। वह सदस्य जो दिल्ली के बाहर हैं वह भी वर्चुअल ही भाग लेंगे।

क्या है एजेंडा?

राष्ट्रीय महासचिव व सांसद अरुण सिंह ने बताया कि मीटिंग का एजेंडा राष्ट्रीय स्तर के प्रासंगिक मुद्दों के अलावा आगामी विधानसभा चुनावों पर भी चर्चा किया जाना है। अगले साल पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं। इसलिए गोवा, पंजाब, मणिपुर, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड पर विशेष चर्चा होगी। उद्घाटन भाषण पार्टी अध्यक्ष डॉ.जेपी नड्डा देंगे जबकि समापन स्पीच पीएम नरेंद्र मोदी देंगे। पीएम नरेन्द्र मोदी कार्यकताओं को जीत का संदेश देंगे।

उपचुनावों के परिणामों पर भी मंथन

अभी 13 राज्यों में 29 विधानसभा और तीन लोकसभा सीटों पर चुनाव हुए हैं। इसमें पार्टी का प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा। हिमाचल प्रदेश में तो पार्टी की हार पर वहां के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने महंगाई जैसे मुद्दों पर हार का ठीकरा फोड़ दिया था। हिमाचल प्रदेश में सभी तीन विधानसभा और एक लोकसभा सीटें हार गई है। पश्चिम बंगाल में भी पार्टी एक भी सीट जीतने से रही। हालांकि, असम और मध्य प्रदेश में पार्टी का प्रदर्शन अच्छा रहा।

कोविड काल में प्रयासों पर भी करेंगे चर्चा

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की मीटिंग में कोविड पीड़ितों को श्रद्धांजलि देते हुए शोक जताया जाएगा। पार्टी महामारी के दौरान लोगों की मदद करने के अपने प्रयासों पर प्रकाश डालेगी।

कार्यालय पर सरकारी प्रदर्शनी भी लगाई गई

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के स्थान पर, मोदी सरकार के "आत्मनिर्भर भारत" कार्यक्रमों के अलावा केंद्र सरकार की अन्य महत्वाकांक्षी योजनाओं पर प्रदर्शनी भी लगाई गई है। इनमें गरीबों को मुफ्त अनाज प्रदान करने और कोविड टीकाकरण अभ्यास जैसे गरीब-समर्थक प्रयासों के बारे में प्रदर्शनियों का आयोजन किया गया है।