कर्नल हत्याकांड के 3 दिन बाद असम राइफल्स ने ढेर किए 3 उग्रवादी

ईटानगर
मणिपुर में असम राइफल्स के कर्नल और उनके परिवार की उग्रवादियों द्वारा की गई हत्या के तीन दिन बाद इंडो-म्यांमार बॉर्डर के पास प्रतिबंधित संगठन के तीन उग्रवादियों को मार गिराया गया। असम राइफल्स के जवानों को सोमवार सुबह यह कामयाबी हासिल हुई है। बताया गया कि ये उग्रवादी तीन नागरिकों का अपहरण कर म्यांमार ले जा रहे थे।

घटना साउथ अरुणाचल के इंडो-म्यांमार बॉर्डर के पास तिराप जिले की है। जानकारी के मुताबिक, यहां प्रतिबंधित संगठन NSCN-KYA के तीन उग्रवादी दो नागरिकों का अपहरण कर म्यांमार ले जा रहे थे। असम राइफल्स के सैनिकों ने इन्हें तिराप जिले में लाहू के पास मार गिराया। हालांकि, अपहृत नागरिकों के बारे में अभी जानकारी नहीं मिल पाई है। उग्रवादियों के पास से तीन हथियार भी बरामद किए गए हैं।

बता दें कि मणिपुर के चुराचांदपुर में शनिवार को हुए हमले में भारतीय सेना का एक कर्नल, उनकी पत्नी और 8 साल का बेटा तथा असम राइफल्स के चार जवान मारे गए थे। कर्नल विप्लव त्रिपाठी 46वीं असम राइफल्स के कमांडिंग ऑफिसर(सीओ) थे। अधिकारियों ने बताया कि देहेंग क्षेत्र से करीब तीन किलोमीटर दूर घात लगाकर किए गए इस हमले में 4 अन्य लोग घायल हो गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: