'इजरायल से प्यार नहीं करते अमेरिका के यहूदी', एक बार फिर विवादित बयान देकर फंसे ट्रंप

वाशिंगटन
अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भले ही सत्ता में न हो लेकिन सुर्खियों में जरूर बने हुए हैं। अब पूर्व राष्ट्रपति पर 'यहूदी-विरोधी' होने का आरोप लगाया गया है। उन्होंने दावा किया था कि अमेरिका में रहने वाले 'यहूदी अब इजरायल से प्यार नहीं करते' बल्कि इंजील ईसाई उनसे ज्यादा प्यार करते हैं। ट्रंप ने शुक्रवार को इजरायली पत्रकार से कहा कि पहले कांग्रेस पर इजरायल का पूर्ण अधिकार था और आज मुझे लगता है कि यह ठीक विपरीत है।

ट्रंप ने कहा कि मुझे लगता है कि ओबामा और बाइडन इसके लिए जिम्मेदार हैं। फिर भी चुनाव में उन्हें अभी भी यहूदी लोगों से बहुत अधिक वोट मिलते हैं। जो आपको यह बताता है कि अमेरिका में यहूदी लोग या तो इजरायल को पसंद नहीं करते हैं या इजरायल की परवाह नहीं करते हैं। इसके बाद उन्होंने न्यूयॉर्क टाइम्स पर निशाना साधा। ट्रंप बोले, 'आप न्यूयॉर्क टाइम्स को देखें। न्यूयॉर्क टाइम्स इजरायल से नफरत करता है और यहूदी लोग हैं जो न्यूयॉर्क टाइम्स चलाते हैं।'

Yogi Adityanath को हराने के लिए 4 साल बाद साथ आए Akhilesh और Shivpal Yadav

 

ट्रंप की बेटी और दामाद भी हैं यहूदी
ट्रंप ने सुल्ज़बर्गर परिवार का उल्लेख कर रहे थे जिसने कई पीढ़ियों तक अखबार को प्रकाशित किया। हालांकि अखबार के प्रकाशक आर्थर ओच्स सुल्ज़बर्गर जूनियर यहूदी नहीं हैं। ट्रंप के दामाद जेरेड कुशनर यहूदी हैं, साथ ही उनकी बेटी इवांका भी यहूदी हैं, जिन्होंने शादी के बाद धर्म परिवर्तन किया था। लेकिन ट्रंप ने कथित तौर पर अपने दामाद पर इजरायल के प्रति 'बहुत वफादार' होने का आरोप लगाया है।

रिपब्लिकन दें इस बयानबाजी का जवाब
इजरायल के लिए डेमोक्रेटिक मेजोरिटी ने पूर्व राष्ट्रपति की टिप्पणी को 'यहूदी विरोधी' करार दिया है। ट्विटर पर जारी बयान में कहा गया कि हम आंखें नहीं मूंद सकते हैं। हर निर्वाचित रिपब्लिकन जो अभी भी उनके साथ खड़ा है, उन्हें इस खतरनाक बयानबाजी का जवाब देना चाहिए और इसकी कड़ी से कड़ी निंदा करनी चाहिए। यह रूढ़िवादी और परेशान करने वाली बात है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: