fbpx

पीयूष जैन के घर कब खत्‍म होगी रेड, जानें इनकम टैक्स की टीम को क्या-क्या मिला

कानपुर. कन्नौज के इत्र व्यपारी पीयूष जैन (Piyush Jain Raid) के ठिकानों पर करीब 100 घंटों से ज्यादा समय से छापेमारी जारी है. डीजीसीआई (DGCI) की टीम ने रविवार देर रात जैन को गिरफ्तार कर लिया. ऐसे में सबके मन में सवाल है कि यह रेड आखिर कब तक चलती रहेगी. काली कमाई के इस ‘धनकुबेर’ की संपत्ति की हिसाब-किताब लगाने में टीम को और कितना समय लगेगा. जांच टीम से जुड़े सूत्रों के मुताबिक, पीयूष जैन की काली कमाई का कच्चा चिट्ठा फिलहाल खुल ही रहा है. कई नई जानकारियां भी सामने आ रही हैं, इसलिए यह पक्के तौर पर नहीं कहा जा सकता कि यह रेड और कितनी देर चलेगी.

सूत्र के मुताबिक, रेड डालने गई टीम रविवार देर रात पीयूष जैन के फार्म हाउस भी पड़ताल करने पहुंची, जहां घर के अंदर संदल ऑयल से भरे ड्रम मिले हैं. इनकी कीमत भी करोड़ों रुपये बताई जा रही है. इस संदल ऑयल की टेस्टिंग के लिए आज सैम्पल भेजे जाएंगे.

नितिन गडकरी बोले- देश के लिए सोने की खान हैं IIT, विकास में दे रहे योगदान

पीयूष जैन के घर रेड में क्या-क्या मिला
पीयूष जैन के ठिकानों पर जीएसटी इंटेलिजेंस, केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर और सीमा शुल्क बोर्ड (सीबीआईसी) और आयकर विभाग के संयुक्त छापे को ऑपरेशन बिग बाजार (Operation Big Bazaar) नाम दिया गया है. इस छापे में अब तक 257 करोड़ कैश, 250 किलो चांदी और 25 किलो सोना मिला है. वहीं 50 बीघा कृषि भूमि मिलने की बात भी सामने आ रही है.

छापेमार टीम भी एकसाथ इतना कैश देखकर दंग रह गई. इस अकूत नकदी को गिनने के लिए 19 मशीनें लगानी पड़ी. सूत्रों ने बताया कि नोट गिनते-गिनते मशीनें तक गर्म होने लगी थीं. पीयूष जैन ने अपने बिस्तर के नीचे, दीवारों और सीढ़ियों के अंदर तक नोटों की गड्डियां छुपा रखी थी. ऐसे में दीवारों तथा संदूक आदि को तोड़ने के लिए 10 मजदूर तक काम पर लगाने पड़े.

जब बैलगाड़ी पर अपनी पत्नी के साथ पहुंचे CJI, गांव वालों ने ऐसे किया उनका स्वागत

कौन हैं पीयूष जैन
पीयूष जैन कन्नौज में इत्र के बड़े व्यापारियों में शुमार किए जाते हैं. वह 40 से ज्‍यादा कंपनियों के मालिक हैं. इनमें से दो कंपनियां मिडिल ईस्ट में हैं. कन्‍नौज में पीयुष की परफ्यूम फैक्‍ट्री, कोल्‍ड स्‍टोरेज और पेट्रोल पंप भी हैं. मुंबई में पीयूष का हेड ऑफिस है. साथ ही वहां उनका एक बंगला भी है. पीयूष जैन इत्र का सारा बिजनेस मुंबई से करते हैं, यहीं से इनका इत्र विदेशों में भी भेजा जाता है.