fbpx

थाईलैंड की लड़कियों के साथ पकड़े गए तीन बीजेपी के नेता

हाइलाइट्स

  • इंदौर में स्पा सेंटर में छापेमारी के दौरान तीन भाजयुमो के नेता गिरफ्तार
  • तीनों नेता खंडवा के रहने वाले, पुलिस ने सभी को भेजा जेल
  • कांग्रेस का आरोपी, इसमें एक नेता है वन मंत्री विजय शाह का करीबी
  • थाईलैंड की लड़कियों के साथ पकड़े गए ये लोग

इंदौर
स्पा सेंटर (Indore SPA Center Raids Update) पर छापेमारी में अब नया मोड़ सामने आ गया है। छापेमारी के दौरान गिरफ्तार 18 लोगों में तीन बीजेपी युवा मोर्चा के नेता हैं। पुलिस ने गिरफ्तार कर उन्हें जेल भेज दिया है। कांग्रेस ने शनिवार को उनकी तस्वीर जारी की है। साथ ही आरोप लगाया है कि तीन में से एक आरोपी वन मंत्री विजय शाह का करीबी है। इस मामले में सियासी फजीहत झेल रही बीजेपी का कहना है कि वह आरोपों के घेरे में आए तीनों लोगों के बारे में पड़ताल कर रही है।
भगवान बुद्ध के बाल पर टिकी है सोने की रहस्यमय चट्टान! चमत्कार या विज्ञान ?

प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने आरोप लगाया है कि इंदौर के एक सैलून में जिस्मफरोशी गिरोह के खुलासे के वक्त आपत्तिजनक स्थिति में पकड़े गए लोगों में तीन खंडवा जिले के भाजयुमो नेता हैं। ये तीनों नेता खंडवा से ही ताल्लुक रखने वाले वन मंत्री विजय शाह के करीबी हैं।

उन्होंने कहा कि जिस्मफरोशी मामले में तीन भाजयुमो नेताओं के पकड़े जाने से बीजेपी की असली चाल, चरित्र और चेहरा सामने आ गया है। हम वन मंत्री के इस्तीफे की मांग करते हैं।

कांग्रेस के आरोपों पर वन मंत्री शाह की प्रतिक्रिया कई प्रयासों के बावजूद नहीं मिल सकी है। हालांकि, प्रदेश बीजेपी प्रवक्ता उमेश शर्मा ने कहा कि खंडवा की जिला बीजेपी इकाई आरोपों के घेरे में आए तीनों लोगों के बारे में पड़ताल कर रही है। अगर तीनों लोग भाजयुमो से जुड़े पाए गए और जिस्मफरोशी मामले में उनकी कोई भूमिका मिली, तो प्रदेश बीजेपी इकाई की ओर से इन्हें पार्टी से बाहर निकालने की सिफारिश की जाएगी।

 


वहीं, पुलिस के एक आला अधिकारी ने बताया कि इंदौर के विजय नगर स्थित सैलून में जिस्मफरोशी के मामले में बृहस्पतिवार को 10 महिलाओं और आठ पुरुषों को अनैतिक देह व्यापार अधिनियम के तहत गिरफ्तार किया गया था, जिनमें थाईलैंड की सात युवतियां शामिल हैं। अधिकारी ने पुष्टि की कि सैलून से ग्राहकों के रूप में पकड़े गए आरोपियों में खंडवा जिले के तीन लोग शामिल थे।

उन्होंने बताया कि सैलून के अलग-अलग केबिन में ग्राहकों के साथ सभी युवतियां आपत्तिजनक अवस्था में थीं। हमें वहां यौन क्रिया में प्रयोग होने वाली आपत्तिजनक सामग्री भी मिली। अधिकारी के मुताबिक पुलिस पूछताछ में सैलून संचालक ने कथित रूप से देह व्यापार का जुर्म कबूल कर लिया और बताया कि वह हर ग्राहक से 5,000 रुपये से 10,000 रुपये वसूल कर उन्हें कैबिन के अंदर युवतियों के पास भेजता था।