सस्ते में चाहिए एलआईसी के शेयर तो पॉलिसीहोल्डर्स को तुरंत करने होंगे ये दो काम

हाइलाइट्स

  • मार्च में आ सकता है एलआईसी का आईपीओ
  • पॉलिसीहोल्डर्स के लिए रिजर्व होगा कुछ हिस्सा
  • उन्हें डिस्काउंट पर मिल सकते हैं कंपनी के शेयर

नई दिल्ली: सरकार देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी एलआईसी (LIC) का आईपीओ (IPO) लाने की तैयारी में है। इसके मार्च में आने की उम्मीद है और यह देश का अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ होगा। इसमें एलआईसी के पॉलिसीहोल्डर्स के लिए भी कुछ हिस्सा रिजर्व होगा और उन्हें सस्ते में शेयर दिए जाएंगे। एलआईसी का बोर्ड आज इसे हरी झंडी दे सकता है।

अभी एलआईसी की 100 फीसदी हिस्सेदारी सरकार के पास है। वित्त वर्ष 2021 में कंपनी के पास 44 लाख करोड़ रुपये की एसेट्स थी। ब्रोकिंग फर्म एंजल वन के मुताबिक इस आईपीओ का आकार 70,000 करोड़ रुपये से एक लाख करोड़ रुपये हो सकता है। आईपीओ के बाद एलआईसी का मार्केट कैप 13-15 लाख करोड़ हो सकता है।

पाकिस्‍तानी 'पीर' ने महिला के सिर में ठोकी 2 इंच मोटी कील, बेटा पाने का दबाव बना खौफनाक

पॉलिसीहोल्डर्स को कितना हिस्सा मिलेगा
एलआईसी अपने पॉलिसीधारकों को पांच फीसदी तक डिस्काउंट दे सकती है और उनके लिए इस इश्यू में 10 फीसदी हिस्सा रिजर्व रख सकती है। देश में एलआईसी के लाखों पॉलिसीहोल्डर्स हैं और इस आईपीओ में उनके पास सस्ते में शेयर पाने का शानदार मौका है। पॉलिसीहोल्डर्स के इस आईपीओ में शेयर खरीदने के लिए कुछ शर्तों को पूरा करना होगा। जल्दी ही सरकार इन शर्तों की घोषणा करेगी।

एलआईसी ने अपने पॉलिसीधारकों को एक पत्र के जरिए आईपीओ में हिस्सा लेने के लिए प्रेरित किया है। कंपनी ने उन्हें आईपीओ में भागीदारी के लिए अपनी स्थाई खाता संख्या (पैन) को अपडेट करें। देश में किसी भी आईपीओ में हिस्सेदारी तभी संभव है जब आपके पास वैध डीमैट खाता हो। इसलिए एलआईसी के आईपीओ के लिए आवेदन करने के लिए पॉलिसीहोल्डर्स को दो काम करने जरूरी हैं। पहला यह कि एलआईसी के पोर्टल पर उनका पैन अपडेट होना चाहिए और पॉलिसीहोल्डर का डीमैट अकाउंट होना चाहिए।

गुड़गांव : बैंक के 'कस्‍टमर केयर' से फोन पर होती रही बात, इधर खाते से फुर्र हुए 9.80 लाख रुपयेएलआईसी वेबसाइट पर ऐसे अपडेट करें पैन
स्टेप 1: एलआईसी की वेबसाइट https://licindia.in/ या https://linkpan.licindia.in/UIDSeedingWebApp/ पर जाएं।
स्टेप 2: होम पेज पर 'Online PAN Registration' विकल्प सेलेक्ट करें।
स्टेप 3: Online PAN Registration पेज पर 'Proceed' बटन पर जाएं।
स्टेप 4: अपना ईमेल एड्रेस, पैन, मोबाइल नंबर और LIC पॉलिसी नंबर डालें।
स्टेप 5: बॉक्स में अपना कैप्चा कोड डालें।
स्टेप 6: 'Get OTP' पर क्लिक करें।
स्टेप 7: OTP सबमिट करें।
ऐसे चेक करें PAN-LIC स्टेटस
स्टेप 1: https://linkpan.licindia.in/UIDSeedingWebApp/getPolicyPANStatus पर जाएं।
स्टेप 2: अपना पॉलिसी नंबर, जन्मतिथि और PAN डालें। इसके बाद कैप्चा डालकर सबमिट कर दें।डीमैट अकाउंट
किसी भी आईपीओ के लिए आवेदन करने या शेयरों की खरीद और बिक्री के लिए डीमैट होना जरूरी है। भारत में दो डिपॉजिटरीज NSDL और CDSL हैं। कई फाइनेंशियल संस्थाएं इन डिपॉजिटरीज में पार्टिसिपेंट हैं। इन्हें 'Depository Participants' कहा जाता है। इनमें से किसी के साथ भी डीमैट अकाउंट खोला जा सकता है। अगर किसी पॉलिसीहोल्डर के पास पहले से ही डीमैट अकाउंट है तो उसे नया खुलवाने की जरूरत नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: