'फिरकी के जादूगर' महान लेग स्पिनर शेन वॉर्न नहीं रहे, 52 साल की उम्र में हार्ट अटैक से निधन

दुनिया के सर्वकालिक महान गेंदबाजों में शुमार ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज शेन वॉर्न का शुक्रवार को निधन हो गया। वह 52 साल के थे। वार्न के मैनेजमेंट की ओर से जारी एक संक्षिप्त बयान में बताया गया कि महान लेग स्पिनर की थाईलैंड के कोह समुई में मौत हो गई। उनकी मौत संभवतः हार्ट अटैक से हुई है। शेन वार्न ने कुछ घंटे पहले ही क्रिकेटर रोड मार्स के निधन पर दुख जताया था। लेकिन तब किसी को क्या पता था कि इस महान गेंदबाज का ये आखिरी ट्वीट होगा।

 


फॉक्स स्पोर्ट्स की रिपोर्ट के मुताबिक वार्न के मैनेजमेंट ने अपने बयान में बताया, 'शेन को उनके विला में बेजान पाया गया, उनके शरीर में कोई हरकत नहीं हो रही थी। मेडिकल स्टाफ की सर्वश्रेष्ठ कोशिशों के बाद भी उन्हें बचाया नहीं जा सका। परिवार इस वक्त प्राइवेसी की गुजारिश करता है।

शेन वार्न ने 145 टेस्ट मैचों में 705 विकेट हासिल किए थे। टेस्ट करियर में उन्होंने 37 बार पारी में 5 विकेट और मैच में 10 बार 10 विकेट हासिल किया। उन्होंने 194 एकदिवसीय मैचों में 293 विकेट हासिल किए थे।

 


शेन वॉर्न के निधन वीरेंद्र सहवाग, वीवीएस लक्ष्मण समेत कई खिलाड़ियों ने दुख जताया है। वीरेंद्र सहवाग ने ट्वीट करते हुए लिखा कि मैं विश्वास नहीं कर सकता। महान स्पिनर सुपरस्टार शेन वॉर्न नहीं रहे। दुनिया भर में उनके परिवार, दोस्तों और प्रशंसकों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना।

 


भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा ने शेन वॉर्न के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए कहा कि यह अत्यंत दुखद है। हमारे खेल के एक दिग्गज और चैंपियन ने हमें छोड़ दिया है। अभी भी विश्वास नहीं हो रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: