पीएम मोदी के साथ बातचीत से गदगद हुए जेलेंस्की, ट्वीट कर बताया- उन्हें क्या अच्छा लगा

हाइलाइट्स

  • यूक्रेन के राष्‍ट्रपति वजेलेंस्की ने पीएम नरेंद्र मोदी के साथ बातचीत के दौरान आभार जताया है
  • जेलेंस्‍की ने कहा कि मैंने पीएम मोदी को रूस के हमले और जवाबी कार्रवाई के बारे में बताया
  • उन्‍होंने बताया कि भारत ने युद्ध के दौरान भारतीय नागरिकों को दी जा रही मदद की सराहना की

 

कीव
यूक्रेन के राष्‍ट्रपति वलोदिमिर जेलेंस्की ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बातचीत के दौरान आभार जताया है। जेलेंस्‍की ने ट्वीट करके कहा कि मैंने पीएम मोदी को रूस के आक्रामक कार्रवाई को यूक्रेन की ओर से दिए जा रहे जवाब के बारे में बताया। उन्‍होंने बताया कि भारत ने युद्ध के दौरान भारतीय नागरिकों को दी जा रही मदद और शीर्ष स्‍तर पर सीधे बातचीत की यूक्रेन की प्रत‍िबद्धता की सराहना की।जेलेंस्‍की ने कहा कि वह यूक्रेन की जनता को दिए जा रहे मदद को लेकर भारत के कृतज्ञ हैं। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को एक फोन कॉल में यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोदिमिर जेलेंस्की को युद्धग्रस्त देश से भारतीय नागरिकों को निकालने में सहयोग देने के लिए धन्यवाद दिया था। सूत्रों ने कहा, ‘35 मिनट की टेलीफोन पर हुई बातचीत के दौरान, दोनों नेताओं ने यूक्रेन में उभरती स्थिति पर चर्चा की और प्रधानमंत्री मोदी ने यूक्रेन से भारतीय नागरिकों को निकालने में यूक्रेन सरकार द्वारा दी गई मदद के लिए राष्ट्रपति जेलेंस्की को धन्यवाद दिया।’

 


यूक्रेन के नेता के साथ मोदी की यह दूसरी बातचीत
24 फरवरी को रूस द्वारा कीव पर सैन्य हमला शुरू करने के बाद से यूक्रेन के नेता के साथ मोदी की यह दूसरी बातचीत थी। पहली बातचीत 26 फरवरी को हुई थी। प्रधानमंत्री सोमवार को रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से भी बात कर सकते हैं। इस बीच रूसी सशस्त्र बलों ने सोमवार को कहा कि वह यूक्रेन के कुछ शहरों में सुबह 10 बजे (मास्को समय, दोपहर करीब 12.30 बजे) से मानवीय गलियारों खोलेंगे ताकि नागरिकों को उनके ‘व्यक्तिगत अनुरोध’ पर जाने की अनुमति मिल सके।

सरकारी मीडिया ने बताया कि फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने अपने रूसी समकक्ष व्लादिमीर पुतिन से मुलाकात की। एक बयान में, रूसी सेना ने कहा, ‘विनाशकारी मानवीय स्थिति और कीव, खारकीव, सूमी और मारियुपोल के शहरों में इसकी तीव्र वृद्धि को देखते हुए, साथ ही साथ फ्रांसीसी गणराज्य के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के व्यक्तिगत अनुरोध पर रूसी सशस्त्र बलों ने युद्धविराम की घोषणा की और मानवीय गलियारों को खोल दिया।’ बीबीसी ने कहा कि चार उल्लिखित शहर वर्तमान में एक ‘महत्वपूर्ण’ रूसी हमले के अभियान के तहत हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: