IND vs SA T20: बेहद खतरनाक है ये अफ्रीकी तिकड़ी, करेगी टीम इंडिया की नाक में दम!

South Africa Tour of India 2022: तेंबा बावुमा की अगुआई में साउथ अफ्रीका टी20 टीम भारत के खिलाफ 9 से 19 जून तक खेली जाने वाली पांच मैचों की सीरीज से पहले गुरुवार को नई दिल्ली पहुंच गई। यह सीरीज वर्ष के अंत में ऑस्ट्रेलिया में टी20 वर्ल्ड कप के लिए दोनों टीमों की तैयारियों को शुरू करने का काम करेगी। यह तीसरी बार होगा, जब साउथ अफ्रीका अक्टूबर 2015 (प्रोटियाज 2-0 से जीते) और सितंबर 2019 (1-1 से ड्रॉ) के बाद भारत में द्विपक्षीय टी20 सीरीज खेलेगा। क्रिकेट साउथ अफ्रीका (सीएसए) ने नई दिल्ली में उतरने के बाद बस के अंदर टीम की तस्वीरों को सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए लिखा, ‘टचडाउन (भारत में आ गए)।’

दिल्ली : किडनी रैकेट का खुलासा, दो डॉक्टरों समेत 10 गिरफ्तार

पूरी ताकत के साथ आए हैं मेहमान
इन दो टीमों की पिछली द्विपक्षीय टक्कर वनडे सीरीज में हुई थी जोकि साउथ अफ्रीका में खेली गई थी। तब केएल राहुल की अगुआई वाली भारतीय टीम को तीन मैचों की सीरीज में 0-3 से शिकस्त का सामना करना पड़ा था। टीम इंडिया इस बार घरेलू मैदान पर खेलेगी लेकिन इस टीम पर जीत हासिल करना अभी भी आसान नहीं होगा। प्रमुख कारण भारतीय टीम में रोहित शर्मा, विराट कोहली और जसप्रीत बुमराह जैसे अहम खिलाड़ियों का नहीं होना है। इस सीरीज में भारत अपनी बेंच स्ट्रेंथ को आजमाएगा, जबकि प्रोटियाज पूरी ताकत के साथ उतरेंगे।

टीम में शामिल है मैच विनर
मेहमान टीम के कुल 16 में से दस खिलाड़ी इस सीजन आईपीएल का हिस्सा रहे थे। यानी यहां के माहौल में उन्हें ढलने में वक्त नहीं लगेगा। साउथ अफ्रीकी टीम में विकेटकीपर क्विंटन डि कॉक, तेज गेंदबाज कगिसो रबाडा के अलावा डेविड मिलर भी हैं। टीम इंडिया को सबसे ज्यादा खतरा इन तीन खिलाड़ियों से ही है और इन तीनों में भी सबसे ज्यादा परेशानी मिलर पैदा कर सकते हैं, जिन्होंने गुजरात टाइटंस को आईपीएल 2022 का खिताब जिताने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। आईपीएल एक इस सीजन 68 से ज्यादा के औसत से 481 रन बनाने वाले बल्लेबाज मिलर के मौजूदा फॉर्म को लेकर उनके कप्तान बावुमा भी रोमांचित हैं और उन्होंने यह संकेत दे दिया है वे इस मैच विनर खिलाड़ी को बल्लेबाजी क्रम में ऊपर उतार सकते हैं ताकि उन्हें ज्यादा से ज्यादा गेंद खेलने का मौका मिल सके।

टॉप थ्री में रहे डि कॉक, रबाडा
हार्ड हिटर बल्लेबाज मिलर जहां चंद गेंदों में मैच का रुख बदलने की ताकत रखते हैं। वहीं टीम में शामिल डि कॉक रनों का अंबार खड़ा करने और रबाडा विकेटों की झड़ी लगा देने में माहिर हैं। डि कॉक ने आईपीएल के इस सीजन 15 मैचों में 508 रन बनाए, जिसमें एक 140 रन की नाबाद पारी भी शामिल रही। बाएं हाथ का यह ओपनर सर्वाधिक रन बनाने वालों की लिस्ट में तीसरे पर रहा। वहीं रबाडा ने 13 मैच में कुल 23 विकेट चटकाए और वह भी सीजन के तीसरे हाईएस्ट विकेट टेकर गेंदबाज रहे। अगर इस लिस्ट को सिर्फ पेसर्स तक ही रखा जाए तो रबाडा टॉप पर रहे। ये दोनों ही प्लेयर्स शुरुआती ओवर्स में ही टीम इंडिया की लय बिगाड़ सकते हैं।

क्विंटन डि कॉक: मैच 15, रन 508, हाईएस्ट 140*, ऐवरेज 36.29, स्ट्राइकरेट 148.97, 100/50 1/3
कागिसो रबाडा: मैच 13, विकेट 23, बेस्ट 33/4, ऐवरेज 17.65, इकॉनमी 8.45, 4 विकेट 2 बार
डेविड मिलर: मैच 16, रन 481, हाईएस्ट 94*, ऐवरेज 68.71, स्ट्राइक रेट, 142.73, 100/50 0/2

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: