Ind vs Wi Sanju Samson: संकटमोचक संजू... सैमसन की विकेटकीपिंग देख आप ऋषभ पंत को भूल जाएंगे

नई दिल्ली: वेस्टइंडीज के खिलाफ मिली 3 रन की रोमांचक जीत का सेहरा भले ही मोहम्मद सिराज के सिर बांधा जा रहा हो, लेकिन असल नायक तो संजू सैमसन ही कहलाएंगे। अगर वह नहीं होते तो शायद मुकाबले का फैसला आखिरी गेंद पर नहीं होता। सिराज की एक 'महाभूल' सुधारने के लिए जी-जान लगा दिया। क्या है पूरा मामला? मैच में कब हुई यह घटना और क्यों उनकी तुलना ऋषभ पंत से की जा रही है। चलिए आगे बताते हैं।

दरअसल, 309 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी वेस्टइंडीज टीम को आखिरी ओवर में 15 रन की दरकार थी। भारत की ओर से गेंदबाजी मोहम्मद सिराज कर रहे थे। शुरुआती चार गेंदों पर सटीक यॉर्कर्स फेंककर उन्होंने कैरेबियाई बल्लेबाजों को बांधे रखा। चार बॉल पर सिर्फ 7 ही रन दिए।

 

अब आखिरी दो गेंदों पर 8 रन चाहिए थे। मगर सिराज पांचवीं गेंद भी जड़ में डालने के चक्कर में लेग स्टंप के काफी वाइड फेंक बैठे, जिसे सैमसन अगर डाइव लगाकर नहीं रोकते तो बॉल बाउंड्री पार कर जाती और मैच का नतीजा बदल सकता था।

 


ऋषभ पंत से होती है तुलना
आखिरी में सिराज की यॉर्कर्स के बूते भारत 3 रन से जीत गया। मोहम्मद सिराज ने 10 ओवर में 57 रन देकर 2 विकेट लिए। शार्दुल ठाकुर और युजवेंद्र चहल के खाते में भी दो-दो सफलताएं आईं। प्रसिद्ध कृष्णा, अक्षर पटेल और दीपक हुड्डा की झोली खाली रही। भारत ने टॉस गंवाकर स्कोरबोर्ड पर 308/7 रन टांगे थे।

कप्तान शिखर धवन ने 97 रन बनाए। शुभमन गिल (64) और श्रेयस अय्यर (54) के बल्ले से अर्धशतक निकले। जवाब में वेस्टइंडीज की ओर से काइल मेयर्स (75), ब्रैंडन किंग (54) के अर्धशतक और अंत में मारियो शेफर्ड ने 25 गेंद में 39 रन की ताबड़तोड़ नाबाद पारी खेली।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: