Red Tide: समुद्र में आया रहस्य रेड टाइड, हजारों मछलियों की हुई मौत, जानें क्या है लाल ज्वार का जानलेवा सच

मैक्सिको सिटी: समुद्री जीवों के लिए रेड टाइड नाम की अजीबो गरीब घटना मौत का कारण बन रही है। मैक्सिकों में समुद्र के किनारे सैकड़ों ऑक्टोपस, मछलिया तटों पर बह कर आई हैं। पिछले कुछ हफ्तों में मेक्सिकों के युकाटन में टेल्चैक समुद्र तट पर ज्वार के चलते हजारों मरी हुई मछलियां बह कर आ रही हैं। इस कारण सैन ब्रूनो और सैन क्रिस्टियानो बीच भी प्रभावित हो रहे हैं। रेड टाइड के लिए शैवाल जिम्मेदार हैं। ये शैवाल समुद्री जीवों के साथ-साथ इंसानों के लिए भी खतरनाक हैं।

स्थानीय रिपोर्ट्स के मुताबिक रेड टाइड से मछलियों की मौत के साथ-साथ फिशिंग का कारोबार भी प्रभावित हो रहा है। इस कारण स्थानीय मछुआरों को बड़ा नुकसान हो रहा है। टैल्चेक के ईकोलॉजी डायरेक्टर अरेल्डा चा ने कहा, 'हमें समुद्री प्रजातियों के किनारे मिलने से समस्या है, हमें डर है कि यह सड़ जाएंगी और बीमारियां फैलाएंगी। हम नहीं चाहते कि ऐसा हो।'

PV Sindhu Gold medal: सिंधु लाईं सोना... दर्द से कराहते हुए मारा मैदान, गोल्ड जीतने वालीं सिर्फ दूसरी भारतीय महिला

किनारों को कराया जा रहा साफ
समुद्र तट की सफाई के लिए बंदरगाह प्राधिकरण को बुलाया गया है। मरी हुई मछलियां मिलने से टूरिस्ट भी आने से बच रहे हैं। पूरा बीच पर भीषण बदबू फैली रहती है। यहां पहुंचे एक पर्यटक ने कहा, 'दुर्भाग्य से प्रकृति की अपनी भूमिका है। हम यहां लगातार टहलने आते हैं। ये बीच हमेशा खूबसूरत रहा है। लेकिन अभी जो स्थिति है वह विनाशकारी है। पूरा बीच मरी हुई मछलियों से भरा है।' युकाटन स्वास्थ्य मंत्रालय रेड टाइड की निगरानी कर रहा है। स्थानीय लोगों को समुद्री जीवों को न खाने का आग्रह किया गया है।


रेड टाइड क्या है
रेड टाइड के दौरान समुद्री पानी का रंग बदलने लगता है। डाइनोफ्लैगलेट्स नाम के शैवाल के कारण ऐसा होता है। ये जहरीले पदार्थों का उत्सर्जन करते हैं। ये समुद्री जीवों के लिए घातक हो सकते हैं। जब एक लीटर पानी में 5 करोड़ शैवाल की कोशिकाएं होती हैं तो इससे रेड टाइट जैसी चीज हो जाती है।\

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: