2-4 दिन में सीबीआई, ईडी मुझे गिरफ्तार कर लेगी.... नई एक्साइज पॉलिसी पर घिरे मनीष सिसोदिया का दावा

नई दिल्ली : एक्साइज घोटाले में अपने घर पर छापे के एक दिन बाद दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने खुद के गिरफ्तार होने की आशंका जाहिर की है। सिसोदिया ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि हो सकता है कि अगते तीन से चार दिन के भीतर सीबीआई, ईडी मुझे गिरफ्तार कर ले। सिसोदिया ने कहा कि कल सीबीआई के अधिकारी मेरे घर आए। सचिवालय में भी रेड किए। सारे अधिकारियों ने अच्छे से व्यवहार किया। सिसोदिया ने कहा कि उन्हें ऊपर से ऑर्डर है।

घोटाला कितने करोड़ का है?
उप मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने बड़े अच्छे से परिवार के साथ व्यवहार किया। घर को जांच किया। अच्छे लोग थे। मनीष सिसोदिया ने कहा कि जिस एक्साइज पॉलिसी के बारे में विवाद खड़ा किया जा रहा है, बड़ी ईमानदारी से पॉलिसी तैयार की है। अगर एलजी ने 48 घंटे पहले पॉलिसी चेंज नहीं की होती, तो 10 हजार करोड़ रुपये का राजस्व मिलता। सिसोदिया ने कहा कि मनोज तिवारी कह रहे हैं कि 8 हजार करोड़ का घोटाला किया है। बीजेपी के दूसरे नेता ने कहा कि 1100 करोड़ रुपये का घोटाला किया है। फिर मैं सोच रहा था कि एलजी साहब ने प्रेस रिलीज जारी की, जिसमें लिखा था कि 144 करोड़ रुपये का घोटाला किया।

सीबीआई आई है, स्वागत करता हूं...एक्साइज स्कैम में छापे पर बोले डेप्युटी CM मनीष सिसोदिया

पूरी पॉलिसी में कोई घोटाला नहीं
सिसोदिया ने कहा कि पूरी पॉलिसी में कोई घोटाला नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि जो कुछ बोल रहे हैं कि इन्हें कुछ पढ़ा नहीं है। इस पूरे शोर शराबे के पीछे असली कहानी है कि मुद्दा शराब का घोटाला नहीं है। सिसोदिया ने कहा कि इन्हें घोटाले की चिंता नहीं है। यदि इन्हें शराब के घोटाले की चिंता होती, तो गुजरात में हर साल 10 हजार करोड़ रुपये के एक्साइज की चोरी होती. यदि इसकी चिंता होती, तो पूरा हेड क्वार्टर गुजरात में शिफ्ट करवा देते. इन्हें घोटाले की चिंता नहीं है. वहां सीबीआई नहीं भेजते. वहां ईडी का मुख्यालय शिफ्ट हो जाता।


दिल्ली के एजुकेशन मॉडल की तारीफ
सिसोदिया ने कहा कि न्यूयॉर्क टाइम्स में दिल्ली के एजुकेशन मॉडल को पहले पेज में छपा था। उन्होंने कहा कि भारत के एजुकेशन मॉडल में दुनिया के सबसे बड़े अखबारों को ऐसा दिख रहा है कि जिसे दुनिया को बताया जा सके। सिसोदिया ने कहा कि डेढ़ साल बाद इस अखबार में कोडिड 19 के दौरान गंगा किनारे जलती लाशों को दिखाया गया। उस समय भारतीय होने के नाते अपने पर शर्म आई थी। यहां ऐसे कोविड हैंडल हो रहा है। कल जब शिक्षा मॉडल पर खबर लगी, तो गर्व महसूस हुआ कि पेज 1 पर लीड खबर में फोटो छपी है। शिक्षा मंत्री ने कहा कि ये खबर मेरी वजह से नहीं छपी। ये दिल्ली के टीचर्स की तारीफ है। डेप्युटी सीएम ने कहा कि न्यू यार्क टाइम्स के पहले पेज पर शिक्षा की खबर छप रही है, तो वो बधाई के पात्र है। उनका काम सारी दुनिया के सिर चढ़कर बोल रहा है। ये हमारे और टीचर्स के लिए गर्व की बात है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: