डोमिनिका पहुंचे प्राइवेट प्लेन पर बवाल, क्या भारत आएगा PNB घोटाले का मास्टरमाइंड?

रोसेउ
मध्य अमेरिकी देश डोमिनिका में पकड़े गए भगोड़े कारोबारी मेहुल चोकसी को भारत लाने की अब भी कोशिशें जारी है। एंटीगुआ के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन ने पुष्टि की कि भारत से एक निजी जेट डोमिनिका के डगलस-चार्ल्स हवाई अड्डे पर पहुंचा हैं। इस जेट की तस्वीर एंटीगुआ न्यूजरूम पर पोस्ट की गई थी। जिसके बाद से जहाज को लेकर तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे थे। वहीं, एंटीगुआ की मीडिया का कहना है कि यह बॉम्बार्डियर ग्लोबल 5000 विमान दरअसल कतर के एक एक्जीक्यूटिव का है।

एंटीगुआ के पीएम ने जहाज को भारत का बताया
एंटीगुआ के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन ने एक एफएम चैनल से कहा कि मेरी समझ यह है कि भारत सरकार ने यह पुष्टि करने के लिए भारत में अदालतों से कुछ दस्तावेज भेजे हैं कि वह वास्तव में एक भगोड़ा है। उन्होंने आगे कहा कि मेरी समझ यह है कि इन दस्तावेजों का उपयोग अदालती मामले में किया जाएगा क्योंकि आप जानते हैं कि डोमिनिका में न्यायाधीश ने मेहुल के निर्वासन पर बुधवार तक के लिए रोक लगा दी है। इसलिए, भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है कि उसे मुकदमा चलाने के लिए भारत वापस लाया जाए।

जेल से मेहुल की पहली तस्वीर भी जारी
शनिवार को करोड़ों रुपयों के पीएनबी घोटाले का मुख्य आरोपी मेहुल चोकसी की पहली तस्वीर जारी की गई थी, जिसमें वह जेल की सलाखों के पीछे दिखाई दे रहा था। तस्वीरों में उसकी आंख में सूजन और हाथ पर चोट के निशान भी थे। पिछले तीन वर्षों में चोकसी की ये पहली सार्वजनिक तस्वीरें थीं जो उन्होंने घोटाले के सामने आने से पहले भारत से भागने के बाद ली गई हैं। वह पिछले कई साल से एंटीगुआ की नागरिकता लेकर अपना जीवन व्यतीत कर रहा था।


बुधवार को डोमिनिका पुलिस ने मेहुल को किया था गिरफ्तार
मेहुल चोकसी को डोमिनिका पुलिस ने बुधवार शाम को कथित तौर पर लापता होने के बाद गिरफ्तार कर लिया था। तब से वह डोमिनिका पुलिस की हिरासत में है। एंटीगुआ के पीएम ने पहले कहा था कि वह चोकसी को अपने देश में वापस नहीं लेंगे और वह चाहते हैं कि उन्हें सीधे भारत वापस लाया जाए। डोमिनिका कोर्ट ने हालांकि उनके प्रत्यर्पण पर रोक लगा दी है। मामले की दोबारा सुनवाई दो जून को होगी। अब माना जा रहा है कि एंटीगुआ के पीएम के संकेत को देखते हुए भारत सरकार सुनवाई के दौरान कुछ दस्तावेज पेश कर सकती है।


पीएनबी घोटाले का आरोपी है चोकसी
चोकसी और उनके भतीजे नीरव मोदी पर कुछ बैंक अधिकारियों के साथ मिलकर पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के साथ कथित तौर पर 13,500 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी करने का आरोप है। नीरव मोदी अभी लंदन की एक जेल में बंद है। दोनों के खिलाफ सीबीआई जांच कर रही है।


भांजे नीरव मोदी पर पहले ही कस चुका शिकंजा
प्रवर्तन निदेशालय ने कुछ समय पहले पंजाब नैशनल बैंक घोटाला मामले में मेहुल चोकसी की 14 करोड़ रुपये से ज्यादा की संपत्ति जब्‍त की थी। इसके अलावा उसके भांजे और अपराध में साझीदार, नीरव मोदी को यूनाइटेड किंगडम (UK) की एक अदालत से तगड़ा झटका लगा है। अदालत ने मोदी को किसी तरह की रियायत देने से इनकार कर दिया है। वेस्टमिंस्टर कोर्ट के जज सैमुअल गूजी ने साफ कहा कि नीरव को दोषी ठहराने लायक जरूरी सबूत मौजूद हैं। कोर्ट ने ये भी माना कि नीरव मोदी ने सबूत मिटाने और गवाहों को धमकाने की साजिश रची।

Source From : NavBharat Times

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: