असम में जगहों के नाम बदलेंगे CM हिमंत, बनेगा पोर्टल...जानें क्या है तैयारी

हिमंत बिस्व सरमा का राजनीतिक सफर कांग्रेस से शुरू हुआ है। वह कांग्रेस के टिकट पर पहली बार 2001 में विधायक बने थे। लगातार तीन बार कांग्रेस के ही टिकट पर जीते। 2016 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने असम में पहली बार सत्ता पाने में कामयाबी पाई थी, जिसका श्रेय हिमंत को ही गया लेकिन सीएम पद उनके हाथ नहीं आया।

Read more