FIFA World Cup 2022: मेसी के देश की महिला पत्रकार से कतर में लूट, पुलिस का जवाब सुन आप भी रह जाएंगे दंग

फीफा विश्व कप को कवर करने कतर पहुंची अर्जेंटीना की एक टीवी रिपोर्टर को उस वक्त भयानक अनुभव झेलना पड़ा, जब उसे टूर्नामेंट के पहले दिन ही लाइव रिपोर्टिंग के दौरान लूट लिया गया। जब महिला रिपोर्टर पुलिस को लूट की सूचना दी तो उनके रिएक्शन से वह दंग रह गई। पुलिस ने उसे पूरा समर्थन दिया। उनकी ओर से कहा गया कि देश में तैनात उच्च-सुरक्षा कैमरों के उपयोग से लुटेरे को बहुत कम समय में ट्रैक किया जाएगा। रोचक बात यह रही कि महिला रिपोर्टर से अपराधी को क्या सजा दी जाए, इस बारे में सुझाव मांगा गया। इस पर वह हैरान रह गई।

डोमिनिक मेट्जगर नाम की महिला रिपोर्टर एक लाइव शो कर रही थी। इसी दौरान उसके हैंडबैग से कई सामान चोरी हो गए। लाइव कवरेज का फुटेज भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। इस घटना के बारे में रिपोर्टर ने बताया- मैं स्टेशन गई। वहां शिकायत की तो महिला पुलिसकर्मी ने मुझसे कहा- हमारे पास हर जगह हाई-टेक कैमरे हैं और हम चेहरे की पहचान के साथ उसका (चोर) पता लगाने जा रहे हैं। आप क्या न्याय चाहती हैं। सिस्टम क्या करेगा जब हम उसे ढूंढेंगे?


मेट्ज़गर ने कहा, "आप क्या न्याय चाहती हैं? आप क्या चाहते हैं कि हम उसे सजा दें? क्या आप चाहते हैं कि उसे पांच साल की जेल की सजा हो? क्या आप चाहते हैं कि उसे देश से निकाल दिया जाए?" कतर में रिपोर्टिंग करते समय कई पत्रकारों को परेशानी हुई है। इससे पहले एक डेनिश पत्रकार को अपने चैनल के लिए रिपोर्टिंग करने से रोका गया था। टूर्नामेंट के आयोजकों ने बाद में रिपोर्टर से यह स्वीकार करते हुए माफी मांगी कि रिपोर्टर को गलती से रोका गया।

एक आधिकारिक बयान में इस मामले पर कहा गया है, 'टूर्नामेंट आयोजकों को एक घटना के बारे में पता है, जहां एक डेनिश प्रसारण दल को कतर के पर्यटन स्थलों में से एक में लाइव प्रसारण के दौरान गलती से रोका गया गया था।' टूर्नामेंट के आयोजकों ने तब से पत्रकार से बात की है और टूर्नामेंट की रिपोर्टिंग परमिट का सम्मान करने के लिए सभी संस्थाओं को एक सलाह जारी किया है। फीफा विश्व कप की शुरुआत मेजबान कतर को रविवार को इक्वाडोर के हाथों 2-0 से हार का सामना करने के साथ हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: