सीएम चेहरे को लेकर मणिपुर बीजेपी में बवाल! दोहराया जा सकता है असम का फॉर्मूला

Manipur elections: विधानसभा के चुनाव से पहले मुख्यमंत्री के चेहरे की घोषणा नहीं करने के बीजेपी आलाकमान के फैसले ने मणिपुर में बवाल को बढ़ा दिया है. इंफाल में अटकलें लगनी शुरू हो चुकी हैं कि बीजेपी पिछले साल असम का अपना उदाहरण मणिपुर में भी दोहरा सकती है. कहा जा रहा है कि चुनाव के नतीजों के आने के बाद सीएम एन. बीरेन सिंह की जगह किसी और को मणिपुर की कमान सौंपी जा सकती है.

Read more

मणिपुर में अब उग्रवादी भी डाल सकेंगे वोट, चुनाव आयोग ने बताईं ये शर्तें

मणिपुर के मुख्य निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि यह फैसला जनप्रतिनिधित्व अधिनियम, 1951 की धारा 60 के खंड (सी) द्वारा प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए और केंद्र सरकार के परामर्श से लिया गया है।

Read more